आईएसटी :00:11:20

कारपोरेट प्रोफाइल

प्रिंट   Download as PDF

एमएमटीसी लिमिटेड : कारपोरेट रूप रेखा  

भारत की प्रमुख व्‍यापारिक कंपनी

 

1963 में स्‍थापित एमएमटीसी 12,500 करोड़ रुपए का कारोबार करने वाली अंतर्राष्‍ट्रीय व्‍यापार की एक प्रमुख कंपनी है।

निर्यात में एमएमटीसी के लंबे योगदान को देखते हुए एमएमटीसी सार्वजनिक उपक्रमों में से पहला ऐसा उपक्रम है जिसे सरकार ने 5 स्‍टार एक्‍सपोर्ट हाउस का दर्जा प्रदान किया है।

एमएमटीसी आयरन ओर, मैगनीज़ ओर तथा क्रोम ओर का निर्यात करने के लिए कैनालाइज्‍ड एजेंसी है। इसके अतिरिक्‍त एमएमटीसी उर्वरक का आयात करने के लिए निर्धारित तीन कैनालाइज्‍ड एजेंसियों में से एक है। वर्तमान में एमएमटीसी सोने और चांदी का आयात करने वाली नोमिनेटेड एजेंसियों में भी एक है।

 

एमएमटीसी का विस्‍तृत नेटवर्क जिसमें कंपनी द्वारा पूर्ण स्‍वामित्‍व की सिगांपुर में सहायक कंपनी भी शामिल है इसे लगभग एशिया, यूरोप, अफ्रिका, अमेरिका आदि सभी देशों में विश्‍व बाजार में काम करने का अवसर प्रदान करती है।

 

मिनरल्स का व्‍यापार करने वाली प्रमुख कंपनी  

एमएमटीसी पिछले दशकों से मिनरल्स का व्‍यापार करने वाली एक अग्रणी कंपनी है। मिनरल्स हैंडल करने के लिए कंपनी का आधारभूत ढांचा एमएमटीसी को माल का स्रोत, गुणवत्‍ता नियत्रंण इत्‍यादि के साथ विभिन्‍न बंदरगाहों पर समय पर डेलिवरी पहुचानें की गारंटी देता है जोकि एमएमटीसी के रिजनल तथा क्षेत्रीय कार्यालयों के रूप में फैले नेटवर्क तथा सिगांपुर की सहायक कंपनी के माध्‍यम से संभव होता है।

 

मिनरल्स के व्‍यापार में एमएमटीसी का कार्यनिष्‍पादन कैपेक्सिल(कैमिकैल्‍स एण्‍ड एलाइड प्रोडेक्‍टस एक्‍सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल ऑफ गवर्मेंट ऑफ इंडिया) द्वारा भी सराहा गया है। जिसने इसे पिछले 22 वर्षों से लगातार उच्‍च उत्कृष्‍टता का पुरस्‍कार प्रदान किया है।

 

एमएमटीसी वैल्‍यू संर्वधन में भी अपनी प्रतिस्‍पर्धा बढ़ाने के लिए संघर्षरत है। एमएमटीसी ने नीलाचल इस्‍पात निगम लिमिटेड(एनआईएनएल) के साथ मिलकर 1.1 मिलियन टीपीए स्‍टील प्‍लांट को प्रोन्‍नत करके मिनरल्स में और अधिक मूल्‍य सवंर्धन के लिए कदम उठाए हैं। यह संयंत्र वार्षिक आधार पर 2.2 मिलियन टन की मात्रा में विभिन्‍न प्रकार के मिनरल्स का उपभोग करता है जो कि एमएमटीसी द्वारा सप्‍लाई किए जाते हैं। 

 

एमएमटीसी विश्‍व में उर्वरक के क्रेताओं में से एक  

उर्वरक तथा उर्वरक  कच्‍चा माल के क्षेत्र में बड़ा क्रेता होने के कारण एमएमटीसी देश की एक बड़ी उर्वरक मार्केटिंग कंपनी बन गई है जो इसने योजनाबद्ध तरीके से अपनी आयात गतिविधियों को संग्रहित कर यूरिया, डीएपी, एमओपी, सल्‍फर, रॉक फासफेट, एसएसपी इत्‍यादि की प्रत्‍यक्ष मार्केटिंग करके प्राप्‍त की है।   

 

एमएमटीसी विश्‍व में उर्वरक की सबसे बड़ी संस्‍थागत क्रेता है। एमएमटीसी ने पिछले चार दशकों से उर्वरक के अन्‍तर्राष्‍ट्रीय बाजार में अपनी विद्धमानता से अपनी स्थिति को मजबूत बनाया हुआ है। इसे पूरे विश्‍व में ग्राहकों का विश्‍वास प्राप्‍त है जो कि इसे अपने पारदर्शिक लेन-देन तथा प्रतिबद्धता से प्राप्‍त हुआ है। एमएमटीसी ने विश्‍व व्‍यापार में एक महत्‍वपूर्ण मुकाम हासिल कर लिया है और इसने अपने पिछले चार दशकों की व्‍यापारिक गतिविधियों का लाभ उठाते हुए खरीद क्रय-विक्रय की एक अच्‍छी नेटवर्किंग स्‍थापित की है जो कि इसके सप्‍लाई चेन में और अधिक मूल्‍य संवर्धन करती है।  

 

परिणाम-स्‍वरूप एमएमटीसी विश्‍व व्‍यापार में उर्वरक के क्रय तथा विक्रय के लिए एक सिंगल विंडो बनी हुई है। वर्तमान में एमएमटीसी यूरिया आयात करने के लिए निर्धारित की गई तीन एजेंसियों में से एक है।

 

भारतीय उप महाद्वीप में बुलियन की सबसे बड़ी व्‍यापार करने वाली कंपनी  

एमएमटीसी भारत में बुलियन का व्‍यापार करने वाली सबसे बड़ी कंपनी है। कंपनी के बहुमूल्‍य धातु में होने वाले व्‍यापार का कंपनी के कुल करोबार में एक बहुत बडा प्रतिशत है।

 

सोना, चांदी, पैलाडियम, रफ डायमंड, एमराल्ड्स, रूबीज तथा दूसरे सेमी प्रेसियस स्‍टोन का आयात करने के लिए एमएमटीसी सरकार द्वारा प्राधिकृत एजेंसी है तथा इनकी आपूर्ति देश के व्‍यापारियों तथा जोहरियों को घरेलू बिक्री, प्रोसेसिंग तथा तदोपरांत निर्यात के लिए करती है। एमएमटीसी शीप्‍ज, सैज मुम्‍बई में बहुमूल्‍य धातुओं के आयात तथा निर्यात की कस्टोडियन भी है।

 

भारत के प्रमुख मेट्रो शहरों में अपने शोरूम के माध्‍यम से एमएमटीसी ने रिटेल आभूषण तथा अपने  खुद के ब्राण्‍ड के स्टर्लिंग सिल्‍वर वेयर(सांची) की ब्रिकी भी करती है।

 

अपने स्‍वयं के ब्राण्‍ड के गोल्‍ड तथा सिल्‍वर मेडालियन बनाने के लिए एमएमटीसी की 1996 से नई दिल्‍ली में यूनिट चल रही है। अपने कार्यालयों के नेटवर्क तथा बैंकों के सहयोग से एमएमटीसी को सॉवरिन इण्डिया गोल्‍ड कायन बनाने का काम मिला है। हम कारपोरेटस/संस्‍थानों की मैडालियन के कस्‍टमाइज्‍ड आर्डरों को भी वर्ष भर इस यूनिट से पूरे करते हैं। सोने/चांदी की वस्‍तुओं की शुद्धता की जांच के लिए एमएमटीसी अपने झण्‍डेवालान ज्‍वेलरी कम्‍पलैक्‍स, नई दिल्‍ली में हाल मार्किंग का काम भी करती है।

 

भारत में अलौह धातु तथा औद्योगिक कच्‍चे माल की आयात कर्ता  

एमएमटीसी तांबा, एलीम्‍युनियम, जिंक, लैड, टिन तथा निक्‍कल जैसे आयातित अलौह धातु की बिक्री करने वाली भारत की एक बड़ी कम्‍पनी है। इसके अलावा यह मैगनेशियम एण्‍टीमोनी, सिलिकोन तथा मरकुरी जैसे सूक्ष्म धातुओं की बिक्री भी करती है तथा फैरो अलॉय, नोबल अलॉय एवं माइनर मैटल्‍स इत्‍यादि औद्योगिक कच्‍चे माल की बिक्री भी करती है। एमएमटीसी एएसटीएम या बीएसएस या एलएमई द्वारा अनुमोदित ब्राण्‍ड के अनुसार गुणवत्‍ता की पुष्टि करने वाले उत्‍पादों का भी आयात करती हैं।  

 

एमएमटीसी के ग्राहक मुख्‍यत: फैबरिकेटिड मैटल्‍स, मशीनरी तथा इक्‍यूपमैंट तथा आटोमोटिव सैक्‍टर से आते हैं। एमएमटीसी अपनी धातुओं की खरीद विश्‍व में फैले उत्‍पादनकर्ता तथा व्‍यापिारियों के पैनल से करती है।

अलौह धातु, औद्यौगिक कच्‍चा माल, माइनर मेटल्‍स तथा कान्‍सैन्‍ट्रेट्स का आयात कम्‍पनी के कारपोरेट कार्यालय, नई दिल्‍ली में केन्द्रित है तथा बिक्री भारत में फैले विभिन्‍न बिक्री केन्‍द्रों से की जाती है।

एमएमटीसी तथा ओडिशा सरकार द्वारा संयुक्‍त रूप से प्रोन्‍नत नीलाचल इस्‍पात निगम लिमिटेड (एनआईएनएल) स्‍टील प्‍लांट को अनुमानत: 110 मिलियन टन के रिजर्व की आयरन ओर की खान लीज पर दी गई हैं जो कि वैधानिक पर्यावरण संबंधी क्‍लीयरेंश प्राप्‍त करने के अग्रिम चरण में है। स्‍टील उत्‍पादन की सुविधा में चलती स्थिरता के कारण आयरन ओर की खान से खनन्‍न का काम इस वर्ष के अंत तक आरंभ होने की संभावना है। इससे एनआईएनएल की कार्य निष्‍पादिता में काफी सुधार की आशा है।

 

विश्‍व स्‍तर पर कृषि उत्‍पादों में बढती रूचि 

कृषि उत्‍पादों को हैण्‍डल करने के विशेष ढ़ांचागत अनुभव के साथ एमएमटीसी की विश्‍व कृषि व्‍यापार में प्रमुख भूमिका है। अपने व्‍यापक क्षेत्रीय कार्यालयों, विदेश कार्यालयों तथा बन्‍दरगाह कार्यालयों के नेटवर्क तथा विदेशी संपर्कों के माध्‍यम से एमएमटीसी भारत के विभिन्‍न भागों से कृषि उत्‍पादों का स्रोत्र ढूढ़ने में सहायता प्रदान करने, गुणवत्‍ता पर नियंत्रण रखने तथा समय पर डिलिवरी देने की गारंटी के साथ लोजिस्टिक सहयोग प्रदान करती है। एमएमटीसी के कृषि उत्‍पादों की बल्क हैण्डिलिंग में चावल, गेहूं, दाले, प्‍याज, खाद्य तेल आदि शामिल है।

 

कृषि व्‍यापार मुख्‍यत: सरकार की नीति तथा मानसून की दशा पर निर्भर करता है, ऐसे समय में जब देश में कृषि उत्‍पादों की अधिक पैदावार हो जाती है तो उसे निर्यात करने के अवसर पैदा होते हैं जब कि इसके विपरीत कम पैदावार के समय कृषि उत्‍पादों का आयात करना पड़ता है। कंपनी का कृषि ग्रुप खाद्य तेलों, खाद्वानों तथा दालों की कमी की पूर्ति नीति-गत ढंग से देश में उत्‍पन्‍न गेहूं जैसे कृषि उत्‍पाद के सर्प्लस को निर्यात करके नियमित करता है। निर्यात आयात की जाने वाले विभिन्‍न कृषि उत्‍पादनों की उपलब्‍धता के चलते ग्रुप इस व्‍यापार की सभी चुन्‍नौतियों का सामना करने के लिए कटिबद्ध है तथा अपनी कमोडिटी प्रोफाइल में और विस्‍तार करते हुए इस व्‍यापार की वृद्धि एवं भविष्‍य को सुनिश्चित करने की दिशा में काम करते रहना है।

 

कोल हैण्‍डलिंग - एमएमटीसी के व्‍यापार का एक प्रमुख क्षेत्र  

कोयला तथा हाइड्रोकार्बन की पहचान एमएमटीसी के प्रमुख व्‍यापारिक क्षेत्र के रूप मे होती है तथा स्टीम्ड कोयला आयात का मुख्‍य उत्‍पाद है। एमएमटीसी के कोयला व्‍यापार में मुख्‍यत: लैम कोक, कोकिंग कोल तथा स्टीम कोल आते हैं।

 

एमएमटीसी इस कठिन प्रतिस्‍पर्धा में मार्केट डाइवर्सिफाइंग से ग्राहकों को वैल्‍युएडेड उत्‍पाद मुहैया कराकर तथा सेवाएं देकर, अपनी उत्‍पाद रेंज को बढ़ाकर, अपने ग्राहक बेस को बढ़ाकर, ढ़ांचागत सुविधाओं में वृद्धि कर, अपने व्‍यापार की प्रति बद्धताओं की निष्‍ठापूर्वक निभाते हुए, तथा उत्‍पाद व सेवाओं में गुणवत्‍ता में वृद्धि करके अडिग रह सकती है।

 

डाइवर्सिफिकेशन व सामान्‍य व्‍यापार मुक्‍त बाजार परिवेश में उत्‍पन्‍न अवसरों का लाभ उठाते हुए एमएमटीसी ने विगत वर्षों में सार्वजनिक-निजी पार्टनरशिप के आदर्श का अनुसरण करते हुए कई संयुक्‍त उद्यम प्रोन्‍नोत किए जैसेकि इंडिया कोमोडिटी एक्‍सचेंज लिमिटेड(आईसीईए), एमएमटीसी पैम्‍प इंडिया लिमिटेड, एमएमटीसी  गीतांजली लिमिटेड, सिकाल आयरन ओर टर्मिनल लिमिटेड (एसआईओटीएल), टीएम माइनिंग कंपनी लिमिटेड, फ्रि ट्रेड वेयर हाउसिंग प्रा. लिमिटेड इत्‍यादि।

 

एमएमटीसी ने पहले से ही स्‍वच्‍छ, गैर व्‍यापारिक तथा रिन्‍युएबल ऊर्जा स्रोत के क्षेत्र में डावर्सिफाइ किया हुआ है। इसमें कर्नाटक राज्‍य में 15एमडब्‍ल्‍यू का विंड एनर्जी प्रोजैक्‍ट लगाया गया है जो कि काम कर रहा है। इस प्‍लांट से ऊर्जा उत्‍पन्‍न होती है जिसे राज्‍य बिजली ग्रिड को बेचा जाता है।

 

बल्क हैंडलिंग क्षमता वाला विश्‍व का एक संपूर्ण व्‍यापारी  

रेल तथा सड़क यातायात के लिए एक सुविक्सित व्‍यवस्‍था, भण्‍डारण, बन्‍दरगाह तथा शिपिंग में व्‍यापक ढ़ांचागत सुविधाएं एमएमटीसी को बल्क कारगो हैण्‍डलिंग में संपूर्ण ढ़ाचागत विशिष्‍टता प्रदानकरती है तथा निर्यात व आयात दोनों में नीतिगत नियंत्रण प्रदान करती है।

 

कंपनी का देश भर फैले घरेलू नेटवर्क में 9 क्षेत्रीय कार्यालयों तथा विभिन्‍न उप क्षेत्रीय कार्यालयों, पोर्ट व फील्‍ड कार्याल्‍यों, गोदामों तथा प्रोक्यूरमेंट केन्‍द्र हैं।

 

व्‍यापार से आगे बढ़कर ब्रोडबेस्‍ड गतिविधियां

निकट अ‍तीत से एमएमटीसी की प्रगति इसे एकाधिकार से प्रतिस्‍पर्धात्मक मुक्‍त बाजार में लेकर आ गई है जिसमें इसे इसकी व्‍यापारिक गतिविधियों को ब्रोड-बेसिंग की ओर लक्षित करना पड़ा है तथा साथ ही अपने व्‍यापार के कोर क्षेत्रों को भी और सशक्‍त बनाना पड़ा है।

 

अपने उत्‍पादन-कर्ता, व्‍यापारिक तथा तकनीकी पार्टनरों को संगठित रखने तथा विश्‍व स्‍तर पर इसके निष्‍पादन में कुश्‍लता तथा विशिष्‍टता लाने के लिए एमएमटीसी ने ओडिशा सरकार के साथ मिलकर एक मिलियन टन क्षमता वाला इस्‍पात व स्‍टील प्‍लांट प्रोन्‍नोत किया है तथा एक 0.8 मिलियन टन क्षमता की कोक ओवन बैटरी भी स्‍थापित की है जो कि बाई प्रोडक्‍ट रिकवरी प्‍लांट तथा 55 एमडब्‍ल्‍यू के कैपटिव पावर प्‍लांट के साथ काम करती है।

 

सप्पोर्ट सर्विसेज

एमएमटीसी मानव संसाधान के विकास से संबंधित गतिविधियों पर बल देती है। व्‍यापार प्रबंधन, निर्यात बाजार, सामान्‍य प्रबंधन ने मैनेजेरियल स्किल विकसित करने के लिए कई प्रशिक्षण के कार्यक्रम चलाए जाते हैं।

 

विगत वर्षों में कंपनी में सद्भावनापूर्ण औद्योगिक संबंध बनाए रखे गए है तथा औद्योगिक विवाद की वजह से एक भी मानव दिवस की हानि नहीं हुई है। फैडरेशन/यूनियन/एसोसिएशन ऑफ आफिसर्स, स्‍टाफ तथा अ.जा/अ.ज.जा के कर्मचारियों के साथ संयुक्‍त कन्‍सलटेटिव मशीनरी फोरम के अन्‍तर्गत नियमित बैठक बुलाई जाती है।

 

कम्‍प्‍यूटरराइजेशन

एमएमटीसी में उच्‍च प्रतिस्‍पर्धातमक वातावरण में काम करने के लिए सिस्टम्स तथा ईआरपी डिविजन में उच्‍च व्‍यावसायी ज्ञान रखने वाली अधिकारियों की टीम है। एमएमटीसी के सभी अधिकारी आधुनिक कम्‍प्‍यूटर सुविधाओं से लैश है। ईआरपी लागू है। एक यूजर फ्रेंडली इन्‍टरनेट बेस्‍ड नोलिज, मैनेजमेंट सोल्‍यूशन भी अधिकारियों को उपलब्‍ध है।

 

सामाजिक तथा कल्‍याण गतिविधियां

एमएमटीसी की सामाजिक तथा कल्‍याण गतिविधियों जैसे कि खेल कूद, आसान ऋण सुविधा, जैसे कि गृह निर्माण अग्रिम, वाहन अग्रिम, हाउस होल्‍ड अग्रिम, विवाह अग्रिम इत्‍यादि कर्मचारियों के कल्‍याण को प्रोन्‍नोत करती है। एमएमटीसी सब्सिडाइज्‍ड कैन्‍टीन सुविधा, चिकित्‍सा सुविधा तथा कुछ मुख्‍य शहरी में         आवसीय सुविधाए भी कर्मचारियों को मुहैया कराती है। एमएमटीसी मैरिट स्‍कॉलरशिप, ट्यूशन फीस प्रतिपूर्ति, इत्‍यादि द्वारा कर्मचारियों के परिवार के कल्‍याण का भी ध्‍यान रखती है।

 

माइनिंग क्षेत्र में पेड़ लगाकर एमएमटीसी पर्यावरण के प्रति अपनी प्रतिबद्धता का निर्वाह करती है। इसमें जन जाति क्षेत्र का विकास तथा रेल लिंक, पोर्ट सुविधा की ढ़ांचागत सुविधाओं का विकास भी है।

 

अधिकारियों का नेटवर्क

एमएमटीसी के ट्रेड नेटवर्क में निम्‍नलिखित शामिल है।

  • एक पूर्ण स्‍वामित्‍व की सिंगापुर में

सहायक कंपनी – एमएमटीसी ट्रांस नैशनल पीटीई, लिमिटेड सिंगापुर (एमटीपीएल)

 

  • 9 क्षेत्रीय कार्यालय
    • पूर्वी क्षेत्र :    कोलकाता, भुवनेश्‍वर
    • पश्चिमी क्षेत्र : मुंबई, अहमदाबाद
    • उत्‍तरी क्षेत्र : दिल्‍ली क्षेत्रीय कार्यालय, जयपुर
    • दक्षिणी क्षेत्र : चेन्‍नै, हैदराबाद, विजाग

 

         

 

              

 


आगंतुक संख्या : 0020263436
अंतिम नवीनीकरण 11-07-2020